इलाज के लिए तरपता रहा युवक Delhi police और Hospital doctor तमाशा देखती रहे………..

17757313_1411397678924959_6216355236230418368_n

घटना  11 April   की है जब एक युवक का आक्सिडेंट हो गया था तब वो लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज पहुच. वाहा के डॉक्टर ने धक्का दे कर हॉस्पिटल से बाहर निकल दिया और पुलिस को बुलाया. पोलिस ने भी यही काम किया .जब हमने उस युवक से बात
करने की कोशिश की तब उस युवक ने लिख कर बताया. उसको बोलने मे प्राब्लम थी.

” मेरा कनॉट प्लेस में एक्सीडेंट हुआ और लेडिहार्डिंग अस्पताल पहुचा अकेले वहा डॉक्टर के पास गया तो वो जनाब कहते है की आप पर्चा ले के आइये !मेने कहा में अकेले हु तो वो कहते है हम क्या करे आप किसी को बुला लीजिये तब मेने कहा आप के हॉस्पिटल
में कोई हेल्फ् नहीं है मरे नाक से खून आ रहा है पैरो में लगी है हाथ में लगी है और आप कह रहे है की पर्ची लाइए तो मेरे एक पत्रकार भाई ने कहा की आप 100 No कॉल कीजिये हेल्फ़ मिलेगी तब तक हम आ रहे है !

तब डॉक्टर ने लिखा तो इतने में दिल्ली पुलिस सिपाही जो वाहा थे वो आये और बोलने लगे की तुम यहाँ से जाओ फिर मेने कहा की आप मुझे अपना नाम बताइए में जा रहा हु तो उन्होंने मेरा फ़ोन ले लिया और तोर दिया और मेरा पर्चा भी फार कर मुझे बहार कर दिया फिर उन्होंने मुझे गार्ड को बुला के आपातकालीन से बहार कर दिया !तब से 1 hr तक मेरे नाक से खून निकलता रहा ! और में बहार कोई हेल्फ़ नहीं फिर मेरे मित्र और भाई जी आये तब डॉक्टर के पास दुबारा ले के गए और मेरा इलाज करने को कहा तब डॉक्टर ने इलाज किया !

घायल पत्रकार को धक्का मारकर बाहर कर दिया गया क्या यही #दिल्ली पुलिस सिपाही करती है एक आम आदमी के साथ !जवाब ? फिर जब हमारे पत्रकार भाई जो बाद में आये तो उन्होंने उस दिल्ली पुलिस सिपाही से पूछा जनाब आप के बात करने का यही तरीका है एक घायल आदमी से जो आपातकालीन सेवा के लिए आये है तो उन्होंने फिर से बतमीजी की सब के साथ और हमे बहार करवा दिया !
अगर घायल पत्रकार के साथ ऐसा होता है तो आम लोगो के साथ क्या होता होगा ? दिल्ली पुलिस कब तक लोगो के साथ ऐसा करेगी ?”

 

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.