वंदे मातरम् नहीं गाऊंगा, संविधान में कही पर भी राष्ट्रगान गाने की बात नहीं की है- शिक्षक अफजल हुसैन

शीषक

दरअसल यह पूरा मामला 26 जनवरी का है. बिहार के कटिहार में प्राथमिक स्कूल के शिक्षक अफजल हुसैन ने वंदे मातरम् गाने से मना कर दिया. और उसकी इस हरकत का विडियो सोशल मीडिया पर काफ़ी वायरल हो रहा है. एक शिक्षक के मुंह से ऐसी बात शोभा नहीं देती. शिक्षक का कम समाज को सुधारना है.

गणतंत्र दिन के मौके पर सभी छात्र- छात्राएं और गांव वाले राष्ट्रगान और वन्दे मातरम् गा रहे थे लेकिन शिक्षक अफजल हुसैन ने वंदे मातरम् गाने से इंकार करते हुए कहा की मै सिर्फ अल्लाह को मानता हूँ और वंदे मातरम् का मतलब होता है भारत की पूजा करना. और हमारा इस्लाम हमे इस बात की इजाज़त नहीं देता है. इसलिए मैंने धार्मिक मान्यता को देखते हुए राष्ट्रगान और वंदे मातरम्  गाने से इंकार कर दिया.

शिक्षक की ऐसी बात सुनके लोगों में भरी गुस्सा है. एवं शिक्षा मंत्री कृष्णा नंदन प्रसाद ने कहा की वंदे मातरम् की बेइज्जती किसी भी हालत में माफ़ नहीं की जाएगी. इस पुरे मामले की कड़क कार्यवाही होगी.

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.